आरा सेक्स रैकेट का मास्टरमाइंड निकला, ताकत बढ़ाने वाली दवाओं का सौदागर

पटना :- बिहार के भोजपुर और पटना के चर्चित सरगना संजय यादव उर्फ पंडित सेक्स पावर बढ़ाने वाली दवाओं का सौदागर निकला। वह भोजपुर, बक्सर, भभुआ व कैमूर सहित कई जिलों में दवाइयां बेचता था। उसके कई रसूखदारों से भी संबंध रहे हैं। गिरफ्तारी के बाद सैक्स रैकेट के मास्टरमाइंड ने पुलिस की पूछताछ में इसका खुलासा किया है।

बीते मंगलवार को भभुआ से पकड़ा गया मास्टरमाइंड संजय यादव नवादा के अकबपुर थाने के सुपौल गांव का रहने वाला है, जो आर्केस्ट्रा संचालक था। आरा टाउन थाने में एसपी सुशील कुमार, एसआईटी व डीआईयू ने उससे अलग-अलग पूछताछ की। मास्टरमाइंड संजय ने कई बड़े लोगों के पास किशोरियों को भेजने की बात स्वीकारी है। आरोपित ने बताया है कि दवा खाने के बाद नाबालिग लड़कियां गलत काम के लिए तैयार हो जाती थीं। वह भोजपुर, बक्सर व कैमूर सहित अन्य जगहों पर दवाइयां बेचता था। उस पर किसी को संदेह न हो और पुलिस से बचने के लिए वह एक बुजुर्ग की मदद लेता था। पुलिस उससे देह व्यापार के धंधे में शामिल अन्य लोगों के अलावा अनिता, इंजीनियर और विधायक के बारे में पूछताछ कर रही है।

फर्जी नाम पर भभुआ स्थित होटल में ठहरा था सरगना
बता दें कि 18 जुलाई की रात देह व्यापार का धंधा सामने आने के बाद एसपी ने पूरे रैकेट का राज खोलने व उसमें शामिल लोगों की धरपकड़ के लिए एएसपी नितिन कुमार के नेतृत्व में एसआईटी गठित की थी। टीम ने मंगलवार को भभुआ के एक होटल से सरगना संजय उर्फ पंडित को दबोच लिया। वह फर्जी नाम पर होटल में ठहरा था। उसके पास से धंधे से संबंधित कुछ कागजात, आधार कार्ड व शक्तिवर्द्धक दवाइयां समेत अन्य सामान बरामद किए गये हैं।

कम उम्र की लड़कियों के साथ रंगरेलियां मनाने वाले अय्याश मनरेगा इंजीनियर अमरेश कुमार मूलरूप से रोहतास के नोखा का रहने वाला है। तरारी में वह पदस्थापित था। इंजीनियर की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने सबसे पहले तरारी प्रखंड में पदस्थापित एक कर्मी को पकड़ा। उससे पूछताछ के आधार पर शाहपुर के चमरपुर के एक युवक को दबोचा। युवक इंजीनियर के आवास पर खाना बनाता था। उसे इंजीनियर की ससुराल के घर की जानकारी थी। इसके बाद पुलिस उसी की निशानदेही पर इंजीनियर की ससुराल हाजीपुर तक पहुंच गयी। पुलिस को देख पत्नी ने ही इंजीनियर को सौंप दिया।
आरोपितों के खिलाफ स्पीडी ट्रायल के तहत मुकदमा चलेगा। इसे लेकर डीआईजी राकेश राठी ने भोजपुर एसपी को आदेश दिया है। एसपी ने बताया कि जल्द ही चार्जशीट कर स्पीडी ट्रायल के लिए कोर्ट को प्रस्ताव भेजा जायेगा। मालूम हो कि इस मामले में चार आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें धंधे का मास्टरमाइंड, संचालिका, इंजीनियर व दलाल शामिल हैं। हालांकि अभी विधायक व अनिता देवी तक किशोरी को पहुंचाने वाली एक युवती पुलिस की पकड़ से बाहर है। इस मामले में तीन अन्य लोगों को भी पकड़ा गया।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.