प्रधानमंत्री 1238 करोड़ की लागत से निर्मित होनेवाले झारखंड सचिवालय भवन का शिलान्यास किया

रांची: आज याद फिर ताजा हो गई। सितंबर 2018 में इस प्रभात तारा मैदान से दुनिया की सबसे बड.ी स्वास्थ्य बीमा योजना का शुभारंभ हुआ था। आज फिर से किसानों के बुढ.ापे में उनके लिए सहारा बनने वाली किसान मानधन पेंशन योजना और खुदरा व्यापारियों व स्वरोजगारियों के पेंशन योजना का शुभारंभ बिरसा मुंडा की भूमि से हो रहा है। एक तरह से झारखंड के गरीब और आदिवासियों के कल्याण के लिए संचालित की जानेवाली योजनाओं का लांचिंग पैड है। जब-जब विभिन्न योजनाओं की बात निकलेगी तब-तब झारखंड का नाम लिया जाएगा कि जिस योजना का शुभारंभ झारखंड से हुआ, उससे करोड.ों लोग लाभान्वित हो रहें हैं। आज इस महान धरती से किसानों और व्यापारियों को बधाई देता हूं आपके बुढ.ापे के लिए सरकार ने योजना लागू कर आपको लाभ भी पहुंचा दिया। ये बातें प्रधानमंत्री ने रांची के प्रभात तारा मैदान में प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना, 462 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय, दुकानदार और स्वरोजगारियों के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना का शुभारंभ, झारखंड विधानसभा भवन, साहेबगंज के मल्टी मॉडल टर्मिनल का उद्घाटन तथा झारखंड सचिवालय भवन के शिलान्यास समारोह में कही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि चुनाव के वक्त हमने कामदार और दमदार सरकार देने का वादा किया था। एक ऐसी सरकार का वादा था जो आपकी आंकाक्षाओं को पूरा करने के लिए ताकत लगा देगी। 100 दिनों में देश ने इसका ट्रेलर देख लिया है, अभी फिल्म बाकी है। उन्होंने कहा कि विकास का वादा है और अटल इरादा भी है। देश जितनी तेजी से चल रहा उतनी तेजी से कभी नहीं चला। इससे पहले देश ने ऐसा परिवर्तन देश ने देखा नहीं और न ही इसके बारे में सोचा गया। नरेंद्र मोदी ने कहा पांच साल में झारखंड में विकास के जितने काम हुए उसके लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास और उनकी टीम को श्रेय जाता है, जबकि पहले यहां घोटाले होते थे। शासन में पारदर्शिता का अभाव था, लेकिन रघुवर दास ने बदलाव करके दिखाया। हाइवे के लिए झारखंड में नौ हजार रुपए के प्रोजेक्ट स्वीकृत किए गए हैं। नेशनल हाइवे का विस्तार किया जा रहा है। प्रधानमंत्री जीवन बीमा योजना और जनधन योजना से 22 करोड. से ज्यादा देशवासी जुड. चुके हैं। इनमें 30 लाख से अधिक साथी झारखंड से हैं। नए झारखंड और नए भारत के लिए हम सभी को मिलकर काम करना है। अगले पांच साल के लिए झारखंड फिर विकास का डबल इंजन लगाएगा। इससे पहले प्रधानमंत्री ने कहा विकास हमारी प्राथमिकता है और प्रतिबद्धता भी। आप तेज रफ्तार से काम करने वाली सरकार देखना चाहते थे न। तो ये सिर्फ शुरुआत है। पांच साल बाकी हैं। बहुत से संकल्प बाकी हैं। हमारा संकल्प है हर घर जल पहुंचाने का। मुस्लिम बहनों के अधिकारों की रक्षा का। आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड.ाई का। जनता को लूटने वालों को उनकी सही जगह पहुंचाने का। इसपर भी बहुत तेजी से काम हो रहा है और कुछ लोग अंदर चले गए हैं, कुछ लोग जमानत मांग रहे हैं।

मल्टी मॉडल प्रोजेक्ट पूरी दुनिया मे झारखंड को नई पहचान देगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि संथाल परगना के साहेबगंज में प्रारंभ हुआ मल्टी मॉडल प्रोजेक्ट देश और दुनिया मे झारखंड को नई पहचान देगा। यह पूरा क्षेत्र परिवहन का नया विकल्प दे रहा है। हल्दिया से बनारस तक जलमार्ग का अहम हिस्सा साहेबगंज बन गया है। इसके माध्यम से राज्य के लोगों की विकास की नई संभावनाएं खुलने वाली है। नार्थ ईस्ट और उत्तर भारत तक यहां के व्यापारी, किसान व अन्य अपने उत्पाद और पैदावार पहुंचा सकेंगे। यह रोजगार का सृजन भी करेगा, साथ ही प्रकृति पर्यावरण और खर्च में कटौती में लाभकारी भी साबित होगा।

21 हजार करोड. से 6 करोड. किसानों को किया गया आच्छादित

मोदी ने बताया कि नई सरकार का गठन होने के साथ ही देश के 6 करोड. किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जोड.ा गया। उनतक कृषि कार्य में आर्थिक सहायता पहुंचाने के दृष्टिकोण से 21 हजार करोड. रुपए दिए गए। योजना से राज्य के 8 लाख किसान अबतक लाभ ले चुके हैं। 2 हजार 50 करोड. रुपए राज्य के किसानों को मिला है। ये रुपए सीधे उनके खाते में भेज दिए गए। इसमें कोई बिचौलिया नहीं, कोई सिफारिश की जरूरत नहीं, सभी पर समान दृष्टिकोण।

दो दशक बाद लोकतंत्र के मंदिर का लोकार्पण हुआ, युवा इसे अवश्य देखें

प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड राज्य गठन के दो दशक बाद लोकतंत्र के मंदिर का लोकार्पण हो रहा है। यह सिर्फ इमारत नहीं, एक ऐसा पवित्र स्थान है जहां राज्य के लोगों कि विकास की शुद्ध व्यवस्था की न्यू रखी जाएगी। झारखंड की वर्तमान और आनेवाली पीढ.ी के सपने साकार होंगे। युवा इस भवन को जरूर देखें, जहां उनकी संस्कृति को बड.े जतन से सहेजा गया है।

एक आदिवासी व जनजाति के बच्चे पर सरकार 1 लाख रुपए खर्च करेगी

प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड समेत पूरे देश के आदिवासी, जनजाति समुदाय के बच्चों के कौशल व शिक्षा को निखारने के लिए 462 एकलव्य विद्यालय का निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ है। इससे जनजातीय समुदाय के बच्चों को बड.ा लाभ होनेवाला है। सरकार इन समुदायों के बच्चों के कौशल विकास एवं शिक्षा पर सालाना एक लाख रुपए से अधिक खर्च करेगी। यहां से निकलने वाले बच्चे नए भारत के निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान देंगे। झारखंड में शुरू हो रहे 69 एकलव्य विद्यालय योजना की कड.ी से जुड. चुके हैं। अब यहां के बच्चों को भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और कौशल विकास से आच्छादित किया जाएगा।

केंद्र और राज्य सरकार गरीब के जीवन का आसान बनाने में जुटी है

नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार गरीब जनजातीय समाज के जीवन को आसान बनाने, उनकी चिंता को कम करने का कार्य कर रही है। देश के गरीब बच्चों की सुरक्षा के लिए मिशन इंद्रधनुष लागू किया गया। 30 करोड. गरीब लोगों का जनधन योजना के माध्यम से बैंक में खाता खुला। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2 करोड. से ज्यादा घर बनाया गया। 2 करोड. और घर निर्माण की प्रक्रिया चल रही है। एक समय था जब शौचालय की पूरे देश में कमी थी। वर्तमान सरकार ने 10 करोड. शौचालय बनाकर गरीबों को सौंपा है। देश की महिलाएं रसोई के धुए की घुटन से त्रस्त थीं। उनके बीच 8 करोड. एलपीजी कनेक्शन देकर उनकी सेहत की रक्षा की गई है। इस तरह गरीब की मर्यादा, उसका इलाज, उसकी पेंशन, उसकी पढ.ाई, उसका सम्मान उसकी कमाई हर क्षेत्र में सरकार ने काम किया है। यह ग्रामीणों का एक ओर सशक्तिकरण तो करती ही है, साथ ही उनमें आत्मविश्वास का संचार भी करती है।

झारखंड के मुख्यमंत्री ने बहुत परिश्रम किया है

प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड में बदलाव लाने का प्रयास रघुवर दास की सरकार ने किया। विकास के जितने भी काम हुए हैं। उनमें आपके मुख्यमंत्री का बड.ा योगदान है। आवागमन की व्यवस्था को सुदृढ. करने के लिए झारखंड में 9 हजार करोड. से अधिक के प्रोजेक्ट की स्वीकृति मिली। भारतमाला योजना के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग का विस्तार हो रहा है। रोडवेज, वाटरवेज, एयरवेज हर क्षेत्र को सुदृढ. करने का कार्य केंद्र व राज्य सरकार ने किया। राज्य में डबल इंजन की सरकार कार्य रही है। 5 वर्ष पहले तक जीवन बीमा, स्वास्थ्य बीमा गरीबों के लिए सपने जैसा था। इस स्थिति को हमने बदलने का प्रयास किया। 22 करोड. से ज्यादा देशवासी आयुष्मान भारत योजना से जुड. चुके हैं। झारखंड के 30 से लाख से ज्यादा लोग इस योजना से जुड.े हैं। साढ.े 3 हजार करोड. का क्लेम लोगों को मिल चुका है। गंभीर बीमारी होना पहले गरीबों के लिए अभिशाप समान था, लेकिन अब ऐसा नहीं गंभीर बीमारी योजना के तहत 44 लाख गरीब मरीजों को जोड.ा गया, इनमें से 3 लाख लोग झारखंड के हैं। अस्पतालों को 7 हजार करोड. का भुगतान देश के लोगों को स्वस्थता प्रदान करने में किया गया।

सिंगल यूज प्लास्टिक एक जगह जमा करें, अपने दायित्वों को निर्वहन करें

प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वच्छता ही सेवा अभियान का शुभारंभ हुआ है। अब कुछ दायित्व आप पर भी है। हमें अपने घरों, अपने मोहल्ले अपने शहर की सफाई तो करनी ही है, साथ-साथ सिंगल यूज प्लास्टिक को एक जगह जमा कर उससे मुक्त होना है। 2 अक्टूबर को हम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाएंगे। उस दिन उस ढेर को हटा देना है। रीसायकल कर देना है। प्रकृति प्रेमी झारखंड के लोगों से अपील करता हूं कि सिंगल यूज प्लास्टिक अभियान का नेतृत्व आप करें। नए भारत, नए झारखंड के लिए मिलकर काम करना है और फिर 5 साल के लिए डबल इंजन की सरकार को लाना है।

आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ने का हमारा संकल्प है

प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड.ाई लड.ने का हमारा संकल्प है। पहले 100 दिनों में ही आंतक रोधी कानून को और कड.ा कर दिया गया है। सौ दिनों के भीतर जम्मू कश्मीर को लेकर निर्णायक फैसला लिया गया। उन्होंने कहा कि नई सरकार बनने के बाद राज्यसभा और लोकसभा जिस प्रकार चली, उसे देखकर हिन्दुस्तान के लोगों के चेहरे पर खुशी हुई। संसद के समय का सार्थक उपयोग हुआ। अनेक महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा हुई। देश के लिए कानून बनाए गए। इसका श्रेय सभी सांसदों राजनीतिक दलों और उनके नेताओं को भी जाता है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने कहा था कि नई सरकार बनते ही पीएम किसान समृद्धि योजना का लाभ सभी किसानों को मिलेगा। ज्यादा से ज्यादा किसानों को इस योजना से जोड.ा जा रहा है। इस योजना के तहत साढ.े छह करोड. किसानों के खाते में 21 हजार करोड. राशि चली गई। झारखंड के भी आठ लाख किसानों को इस योजना का लाभ मिला है। झारखंड के किसानों को करीब ढाई सौ करोड. दिया गया है। इस योजना में कोई बिचौलिया नहीं। किसी की सिफारिश की जरूरी नहीं। कोई कट मनी नहीं। पैसे सीधे खाते में। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने किसान मानधन पेंशन योजना के तहत विमला देवी, अपु उरांव ’झारखंड,’ रिंकी देवी ’बिहार’, रथवा जसमीर सिंह ’गुजरात’, बिट्टू कुमार ’हरियाणा’, सत्यनारायण ’तमिलनाडु’, मंटू देवनाथ ’त्रिपुरा’ को सांकेतिक तौर पर योजना से लाभान्वित किया। वहीं खुदरा व्यापारियों व स्वरोजगारियों के पेंशन योजना से आदित्य सिंह उत्तर प्रदेश, बरिंदर साहू उड.ीसा, राहुल मेहता राजस्थान, एस. सवित्रा तमिलनाडु, तरिसम जम्मू कश्मीर, रंजु दास आसाम एवं पुष्पा मिंज सब्जी विक्रेता झारखंड को पेंशन कार्ड सौंपा।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.