हमें कुशासन पसंद नहीं,उन्हें प्रोटोकॉल पता नही:हेमंत सोरेन

रांची: झारखंड विधानसभा के नए भवन उद्घाटन के बाद बुलाए गए एक दिन के विशेष सत्र में शुक्रवार को झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायकों ने हिस्सा नहीं लिया। झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने कहा है कि कुशासन का हिस्सा नहीं बन सकते, इसलिए विशेष सत्र में शामिल नहीं होने का निर्णय लिया। शुक्रवार को हेमंत सोरेन ने प्रेस कांफ्र्रेंस कर सरकार पर आरोपों की झड.ी लगा दी। इसके साथ ही बताया कि विधानसभा भवन के उद्घाटन को लेकर उन्हें कोई जानकारी या सूचना नहीं दी गई, जबकि वे नेता प्रतिपक्ष हैं। गौरतलब है कि नेता प्रतिपक्ष की हैसियत से हेमंत सोरेन का नाम आमंत्रण और शिलापट्ट में शामिल नहीं किए जाने पर झामुमो के कई विधायक और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शशांक शेखर भोक्ता ने गुरुवार 12 सितंबर को ही उठाया है। शशांक शेखर भोक्ता ने कहा है सत्ता हेमंत सोरेन के नाम से खार खाए, पर यह नहीं भूले कि वे नेता प्रतिपक्ष हैं, जबकि विधानसभा के प्रोटोकॉल में विधानसभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री, संसदीय कार्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष सर्वोपरि है। साथ ही लोकतांत्रिक व्यवस्था तथा सदन की कार्यवाही से लेकर गरिमा में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका अहम है। शुक्रवार को हेमंत सोरेन ने कहा विधानसभा के उद्घाटन समारोह में राज्यपाल, विधानसभा के अध्यक्ष, संसदीय कार्यमंत्री को बोलने का मौका तक नहीं दिया गया, जबकि यह आदिवासी बहुल राज्य है। प्रोटोकॉल के लिहाज से रांची में मुख्यमंत्री के बाद मेयर आशा लकड.ा का स्थान आता है, उन्हें संबोधन का मौका नहीं मिला। संसदीय मंत्री को एक शब्द बोलने का मौका नहीं दिया गया, जबकि सदन को चार लोग पूर्णतया प्रदान करते हैं, विस अध्यक्ष, मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष और संसदीय कार्यमंत्री। समारोह की जो तस्वीरें सामने आई, वह भाजपा और मुख्यमंत्री की सोच जाहिर कर रही है। हेमंत सोरेन ने कहा जिस तरीके से नियम कायदे की धज्जियां उड.ाई जा रही हैं, वह चिंता का विषय है। भाजपा की सरकार ने सदन की गरिमा समाप्त कर दी है। उद्घाटन, शिलान्यास कार्यक्रम में करोड.ों खर्च हुए होंगे। इन सबके बीच मैं पूछना चाहता हूं कि क्या विधानसभा भवन के निर्माण काम पूरा हो गया है। सरकार के एक बड.े पदाधिकारी ने हमें बताया है कि अभी भवन निर्माण के काम पूरे होने में दो से तीन महीने लगेंगे। अधूरा भवन में सत्र प्रारंभ करना क्या कानून की धज्जियां उड.ाना नहीं है, जबकि सरकार ने भवन पूर्णता का सर्टिफेकिट ले लिया है। नगर निगम ने कैसे यह जारी किया। तब तो पूछा ही जा सकता है कि क्या चुनावी लिहाज से यह उद्घाटन नहीं किया गया। उद्घाटन समारोह को देखें तो पता चलेगा कि भाजपा हर चीजों को चुनाव के नजरिए से देखती है। हेमंत ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा करने का मेरा पुराना अनुभव है। वे मजाक उड.ाते हैं, बेइज्जत करते हैं। उसका भी हमें अनुभव है। विधानसभा भवन और साहेबगंज स्थित मल्टी मॉडल टर्मिनल का आनन-फानन में उद्घाटन किया गया।

प्रेस कांफ्रेस में हेमंत सोरेन ने विभिन्न जिलों के उपायुक्तों और अफसरों के ट्वीट के प्रिंटआउट दिखाते हुए कहा राज्य के डीसी को अघोषित तौर पर भाजपा का सदस्य बना दिया गया, लेकिन वे राजनीतिक हिस्सा मत बनें। एक बड.े पदाधिकारी पर एफआईआर दर्ज है। चुनाव आयोग ने पहले ही उन्हें राज्य बदर किया था। अच्छा होगा अफसर करियर दांव पर मत लगाएं। येनकेन प्रकारेण पूरे राज्य में स्कूलों को बंद करा दिया गया। स्कूलों के बसों को कब्जे मे कर लिया। डीसी, एसपी, बीडीओ, सीओ सभी को भीड. जुटाने के काम में लगा दिए गए। क्या इससे नियम कानून की धज्जियां नहीं उड.ती रही। हेमंत ने कहा कि साहेबगंज बंदरगाह के लिए 181 एकड. जमीन का अधिग्रहण किया जाना है। अभी तक 63 एकड. जमीन अधिग्रहित की जा सकी है। लोगों को मुआवजा तक नहीं मिला। इसके लिए गोली चलने की नौबत आ गई थी। बंदरगाह से गिट्टी की पहली खेप बाहर चली गई। मार्केटिंग का काम शुरू है। खनिज संपदा को लूटने की साजिश चल रही है, जबकि भविष्य बताएगा वह बंदरगाह किस तरह से आदिवासियों के शोषण का साम्राज्य कायम करेगा। हेमंत ने किसान मानधन योजना और स्वरोजगारियों के लिए पेंशन योजना पर भी सवाल खड.े किए। उन्होंने कहा कि 18 साल का किसान जब साठ साल का होगा तो तीन हजार रुपए मिलेंगे। तब नमक की इतनी कीमत हो सकती है। उन्होंने कहा कि देश मंदी की मार झेल रहा है। नया मोटर कानून लाद दिया गया है। यह ट्रैफिक टेररिज्म है। हेमंत ने आरोप लगाया कि पिंजड.े से निकले भूखे शेर की तरह पुलिस आमलोगों के साथ दिख रही है। इसके साथ ही हेमंत सोरेन ने एकबार फिर आरोप लगाया कि मीडिया भी अपनी जिम्मेदारी निभाने से चूक रहा है। उन्होंने कहा कि खबरें दबाई जाती हैं, जबकि सत्ता की तरफदारी की जाती है। अपने फेसबुक वाल पर हेमंत ने लिखा है कि मीडिया वाच डॉग की भूमिका से हट रहा है। इससे पहले हेमंत ने आरोप लगाया कि यौन शोषण के आरोपी विधायक ढुल्लू महतो उद्घाटन समारोग में सेल्फी लेने में जुटे दिख रहे हैं। इसे देखर अजीब लगा।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.