मॉब लिंचिंग: तबरेज अंसारी के घरवालों से मिले ओवैसी, हरसंभव मदद का दिया भरोसा



रांची: ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन ’एआईएमआईएम’ के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने झारखंड की राजधानी रांची में मॉब लिंचिंग के शिकार हुए तबरेज अंसारी की पत्नी शाइस्ता परवीन से मुलाकात की। इस दौरान तबरेज के चाचा मशरुर आलम भी मौजूद थे। मंगलवार को हुई इस मुलाकात के दौरान ओवैसी ने तबरेज के परिजनों को हरसंभव मदद का भरोसा दिया। साथ ही कहा कि परिवार के लोग मुकदमे की पैरवी पर ध्यान दें। ओवैसी ने कहा कि केस में धारा 302 दोबारा जुड.ने से इंसाफ की उम्मीद बढ. गई है। बता दें कि इसी साल 17 जून को सरायकेला-खरसावां के धातकीडीह गांव में ग्रामीणों ने तबरेज अंसारी की मोटरसाइकिल चोरी के आरोप में बुरी तरह पिटाई की थी। बुरी तरह से घायल तबरेज की 22 जून को मौत हो गई थी। तबरेज के परिवार वालों की शिकायत पर पुलिस ने धारा 302 के तहत केस दर्ज किया था, लेकिन पुलिस की चार्जशीट में धारा 302 हटा दिया गया था। बाद में हंगामा मचने पर पुलिस ने पूरक चार्जशीट दायर कर सभी 13 आरोपियों पर धारा 302 लगाई। झारखंड पुलिस मुख्यालय से जारी विज्ञप्ति में कहा गया कि पुलिस ने ये कार्रवाई एमजीएम मेडिकल बोर्ड के द्वारा जारी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर की। धारा 302 जोड.े जाने पर पत्नी शाइस्ता परवीन ने कहा कि उन्हें असली खुशी तब मिलेगी जब दोषियों को फांसी की सजा होगी। उन्होंने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की, वहीं तबरेज के चाचा मशरुर आलम ने कहा कि धारा 302 जुड.वाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। डीसी-एसपी से लेकर मानवाधिकार आयोग तक का दरवाजा खटखटाना पड़ा। इस मामले में दोषियों को फांसी की सजा होनी चाहिए तब जाकर न्याय होगा।

पत्नी ने दी थी आत्महत्या की धमकी

बता दें कि कुछ दिन पहले तबरेज की पत्नी शाइस्ता परवीन ने सरायकेला के डीसी को ज्ञापन सौंप इस मामले में पोस्टमॉर्टम समेत सभी रिपोर्ट की मांग की थी। साथ ही धारा 302 नहीं लगाने की स्थिति में आत्महत्या की चेतावनी दी थी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.