अगले विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन का कोई मुकाबला नहीं, एक तरफ डबल इंजन की सरकार और एक तरफ बिना इंजन का ठगबंधन: प्रतुल शाहदेव

रांची: भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में स्थिर सरकार देकर जनता ने देश और प्रदेश से राजनीतिक अस्थिरता का वातावरण समाप्त किया। जिसके परिणामस्वरूप डबल इंजन की सरकार ने विकास की एक नई इबारत लिखी। उन्होंने कहा कि चाहे किसान हो या मजदूर, व्यापारी हों या पत्रकार, महिला हो या अल्पसंख्यक, युवा हो या वृद्ध सबका साथ, सबका विकास के मंतव्य के साथ आगे बढ. रही इस सरकार ने सभी को विकास की मुख्यधारा से जोड. कर झारखंडवासियों को स्वावलंबी बनाया है। शाहदेव ने बताया कि जहां एक ओर मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत किसानों को 11 हजार से 31 हजार तक मानदेय दिया गया, वहीं दूसरी ओर झारखंड देश का इकलौता ऐसा राज्य बना जो किसानों के फसल बीमा का प्रीमियम भी भरता है। वे सोमवार को पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने महिलाओं के लिए सरकार द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री सुकन्या योजना एवं मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का ही असर है कि आज राज्य में लिंगानुपात में अप्रत्याशित वृद्धि हुई। जन्म से 18 वर्ष तक लड़कियों को 40 हजार की वित्तीय सहायता तथा बेटी की शादी के लिए 30 हजार रुपए की सहायता ने बेटियों को सुशिक्षित एवं रक्षित किया। महिलाओं के आत्मस्वालंबन की दिशा में उठाए गए सरकार के ऐतिहासिक कदम का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं के लिए 1 रुपए में 50 लाख तक के जमीन-मकान की रजिस्ट्री के कारण आज राज्य में 80 प्रतिशत रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर हो रही है तथा झारखंड अकेला ऐसा राज्य बना जहां 33 लाख से अधिक महिलाओं को चूल्हा के साथ 2 रिफिल सिलेंडर मुफ्त दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों के स्वास्थ्य की चिंता करते हुए सरकार ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की, जिससे झारखंड के 57 लाख गरीब परिवारों को 5 लाख की मुफ्त स्वास्थ्य बीमा दिया गया, जिसका लाभ अभी तक 3 लाख झारखंडवासी ले चुके हैं। आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने के मामले में रांची सदर अस्पताल का देश में दूसरा स्थान है, यह है हमारी सरकार की प्रतिबद्धता। शाहदेव ने कहा कि सभी वर्गों को साथ लेकर चलना रघुवर सरकार की प्राथमिकता रही है, यही कारण है कि आज आदिवासी समाज तेजी से आगे बढ. रहा है न सिर्फ इस सरकार ने अनुसूचित जनजाति आयोग का गठन किया, बल्कि आदिवासियों के अगुवा जैसे मानकी, मुंडा, पाहन आदि को 1 हजार से 3 हजार तक सम्मान राशि देकर उन्हें सामाजिक सम्मान भी दिया। सरकार ने आदिवासी समाज के विश्व प्रसिद्ध लुगूबुरु मेले को राजकीय मेला का दर्जा देकर झारखंड की संस्कृति को विश्वपटल पर एक नई पहचान दी। यूपीएससी प्रारंभिक परीक्षा पास करने वाले को 1 लाख रुपए की आर्थिक सहायता तथा प्री-मैट्रिक और पोस्ट मैट्रिक के तहत बच्चों को 527 करोड. की छात्रवृत्ति प्रदान कर सरकार ने आदिवासी छात्रों को सुशिक्षित करने का काम भी किया। शाहदेव ने कहा कि  मोदी और रघुवर दास की सरकार ने मिलकर देश की राजनीतिक संस्कृति बदल डाली, जिसके कारण अब देश से परिवारवाद, तुष्टीकरण, क्षेत्रीयता की राजनीति समाप्त हो रही है। मोदी सरकार के ऐतिहासिक कार्यों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि धारा 370 को इस प्रकार दिखाया जा रहा था कि उसे स्पर्श करना नामुमकिन है, पर मोदी और अमित शाह की इच्छाशक्ति ने एक झटके में उसे समाप्त कर दिया। धारा 370 हटा तो कांग्रेस और झामुमो ने इसका विरोध किया, यह जानते हुए की धारा 370 आदिवासियों के लिए एक श्राप से कम नहीं था। आदिवासी के तथाकथित हितैषी वे नेता बताएं की आदिवासी विरोधी धारा 370 के समाप्त होने पर उन्हें इतनी तकलीफ क्यूं हुई।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.