रघुवर सरकार के दिल में बसता है आदिवासी समाज: समीर उरांव

रांची: झारखंड में पहली बार आदिवासी नेतृत्व को सम्मान राशि देने की पहल रघुवर सरकार ने किया है। इसके तहत मानकी को 3 हजार, मुंडा और ग्राम प्रधान को 2 हजार एवं डाकुवा, परगनैत, जोगमांझी, कुड.ाम नाइकी, नाइकी, गोड़ेत, पड.हा राजा, ग्रामसभा के प्रधान, घटवाल एवं तावेदर को 1 हजार रुपए प्रति माह दी जा रही है। आदिवासी बहुल गांवों में आदिवासी ग्राम विकास समिति का गठन किया गया है। 5 लाख तक के विकास कार्य समिति ही कराती है। गैर आदिवासी गांवों में ग्राम विकास समिति के जरिए 5 लाख रुपए तक के विकास कार्य कराए जाते है। उक्त बातें भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद समीर उरांव कही।  उन्होंने कहा कि झारखंड पुलिस में पहाडि.या आदिवासी समुदाय के लिए 2 बटालियन का गठन किया गया है। प्री मैट्रिक और पोस्ट मैट्रिक के तहत एससी-एसटी एवं अन्य पिछड.ा वर्ग के 30 लाख से ज्यादा बच्चों को 527 करोड़रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की गई। उरांव ने कहा कि पहली बार रघुवर सरकार ने ही राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग का गठन करने का फैसला लिया। पहली बार शहीद ग्राम योजना के तहत शहीदों के 7 जिलों के अंतर्गत 20 गांव में 1125 घर बन रहे है। जिसमे 490 घरों का निर्माण पूर्ण हो चुका है। शहीदों के गांवों को सभी सुविधा देकर आदर्श गांव बनाया जा रहा है। राँची स्थित बिरसा मुंडा जेल को संग्रहालय के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसमें भगवान बिरसा मुंडा के साथ-साथ सभी महापुरुषों की प्रतिमा लगाई जाएगी। आदिम जनजाति समाज को ग्राम डाकिया योजना के तहत प्रतिमा 35 किलो अनाज घर तक पहुचाएं जाते है। यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा पास करने वाले एससी-एसटी के विद्यार्थी को मुख्य परीक्षा को 1 लाख रुपए की सहायता दी जाती है। लुगुबुरु मेला को राजकीय मेला का दर्ज दिया। वृद्धा-विधवा पेंशन की राशि 600 से 1000 कर दिया गया। 2014 में जनजाति उपयोजना बजट 11,997 करोड़रुपए था, जबकि 2019 में जनजाति उपयोजना बजट 20,764 करोड़रुपए है। 2014 में 647 सरना मसना स्थलों की घेराबंदी की गई थी, जबकि पिछले पांच सालों में 1550 से ज्यादा योजनाओं की मंजूरी दी गई। 2014 में आदिवासियों के लिए सिर्फ 18,943 वनाधिकार पट्टो का वितरण हुआ था, जबकि पिछले पांच सालों में 61,970 लोगो को वनाधिकार पट्टा दिया गया। प्रेसवार्ता में अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक बड.ाईक, मोर्चा महामंत्री बिंदेश्वर उरांव उपस्थित थे।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.